NCERT Solutions for Class 6 Sanskrit Chapter 11 पुष्पोत्सवः

NCERT Solutions for Class 6 Sanskrit Ruchira Chapter 11 पुष्पोत्सवः

अभ्यासः

पाठ का सम्पूर्ण सरलार्थ-

1. एकस्मिन् वने ………………….. अभवत् (पृष्ठ-74)
हिन्दी सरलार्थ-
एक वन में एक गीदड़ और एक बगुला रहते थे। उन दोनों में मित्रता थी। एक बार सुबह गीदड़ बगुले को बोला-मित्र! कल तुम मेरे साथ भोजन करो। गीदड़ के निमन्त्रण से बगुला प्रसन्न हो गया।

2. अग्रिमे दिने ……………………. अभक्षयत् (पृष्ठ-74)
हिन्दी सरलार्थ-
अगले दिन वह भोजन के लिए गीदड़ के घर गया। कुटिल स्वभाव वाले गीदड़ ने थाली में बगुले को खीर दी और बगुले से बोला-मित्र! इस पात्र में हम दोनों अब एक साथ ही खाते हैं। भोजन के समय बगुले की चोंच थाली से भोजन ग्रहण करने में समर्थ नहीं हुई। इसलिए बगुला केवल खीर को देखता रहा। गीदड़ सारी खीर खा गया।

3. शृगालेन वञ्चितः …………………………… पश्यति। (पृष्ठ-74-75)
हिन्दी सरलार्थ-
गीदड़ से ठगे गए बगुले ने सोचा-“जैसा इसने मेरे साथ व्यवहार किया है, वैसा ही व्यवहार मैं भी उसके साथ करूँगा।” ऐसा सोचकर वह गीदड़ को बोला-“मित्र! तुम भी कल शाम को मेरे साथ भोजन करना।” बगुले के निमन्त्रण से गीदड़ प्रसन्न हो गया। जब गीदड़ शाम को बगुले के घर भोजन के लिए गया, तब बगुले ने तंग मुख वाले कलश में खीर दी और गीदड़ को बोला-“मित्र! हम दोनों इस पात्र में एक साथ ही भोजन करते हैं।” बगुला कलश से चोंच से खीर खा लेता है, परन्तु गीदड़ का मुँह कलश में नहीं घुसता, इसलिए बगुला सारी खीर खा जाता है और गीदड़ केवल ईर्ष्या से देखता रहता है।

4. शृगालः बकं ………………… सुखैषिणा॥ (पृष्ठ-75)
हिन्दी सरलार्थ-
गीदड़ ने बगुले के प्रति जैसा व्यवहार किया, बगुले ने भी गीदड़ के प्रति वैसा व्यवहार करके बदला ले लिया। कहा भी गया हैबुरे व्यवहार का फल दुःखदायी होता है। इसलिए सुख चाहने वाले मनुष्य को अच्छा व्यवहार करना चाहिए।

पाठ्य-पुस्तक के प्रश्न-अभ्यास

प्रश्नः 1.
उच्चारणं कुरुत-

NCERT Solutions for Class 6 Sanskrit Chapter 11 पुष्पोत्सवः 1
उत्तर:
विद्यार्थी स्वयं उच्चारण करें।

प्रश्नः 2.
मञ्जूषातः उचितम् अव्ययपदं चित्वा रिक्तस्थानं पूरयत
NCERT Solutions for Class 6 Sanskrit Chapter 11 पुष्पोत्सवः 2
(क) भ्रमणं स्वास्थ्याय भवति।
(ख) ……. सत्यं वद।
(ग) त्वं…..मातुलगृहं गमिष्यसि?
(घ) दिनेशः विद्यालयं गच्छति, अहम् तेन सह गच्छामि।
(ङ) विज्ञानस्य युगः अस्ति।
(च) …….. रविवासरः अस्ति।
उत्तर:
(क) प्रातः
(ख) सर्वदा
(ग) कदा
(घ) अपि
(ङ) अधुना
(च) अद्य

प्रश्नः 3.
अधोलिखितानां प्रश्नानाम् उत्तरं लिखत
(क) शृगालस्य मित्रं कः आसीत्?
(ख) स्थालीतः कः भोजनं न अखादत्?
(ग) बकः शृगालाय भोजने किम् अयच्छत्?
(घ) शृगालस्य स्वभावः कीदृशः भवति?
उत्तर:
(क) शृगालस्य मित्रं बकः आसीत्।
(ख) स्थालीतः बकः भोजनं न अखादत्।
(ग) बकः शृगालाय भोजने क्षीरोदनम् अयच्छत् ।
(घ) शृगालस्य स्वभावः कुटिलः भवति।

प्रश्नः 4.
पाठात् पदानि चित्वा अधोलिखितानां विलोमपदानि लिखत-
यथा-
शत्रुः – मित्रम्
(क) सुखदम् – ……………….
(ख) दुर्व्यवहारः – ……………….
(ग) शत्रुता सायम् – ……………….
(ङ) अप्रसन्नः – ……………….
(च) असमर्थः – ……………….
उत्तर:
(क) दुःखदम्
(ख) सद्व्यवहारः
(ग) मित्रता
(घ) प्रातः
(ङ) प्रसन्नः
(च) समर्थः

प्रश्नः 5.
मञ्जूषातः समुचितपदानि चित्वा कथां पूरयत
NCERT Solutions for Class 6 Sanskrit Chapter 11 पुष्पोत्सवः 3
एकदा एकः काकः ……………(क)…………… आसीत्। सः जलं पातुम् …………..(ख)……………. अभ्रमत्। परं ………..(ग)………… जलं न प्राप्नोत् । अन्ते सः एकं ……………(घ)…………… अपश्यत् । घटे ……………..(ङ)…………. जलम् आसीत्। अतः सः जलम् …………..(च)……………… असमर्थः अभवत्। सः एकम् …………….(छ)………… अचिन्तयत्। सः …………..(ज)………… खण्डानि घटे अक्षिपत्।

एवं क्रमेण घटस्य जलम् …………(झ)……………. आगच्छत्। काकः जलं पीत्वा …………(ण)…………. अभवत् । परिश्रमेण एवं ……………(ट)…………….. सिध्यन्ति न तु ………………(ठ)……………. ।
उत्तर:
(क) पिपासितः
(ख) इतस्ततः
(ग) कुत्रापि
(घ) घटम्
(ङ) स्वल्पम्
(च) पातुम्
(छ) उपायम्
(ज) पाषाणस्य
(झ) उपरि
(ण) सन्तुष्टः
(ट) कार्याणि
(ठ) मनोरथैः

प्रश्नः 6.
तत्समशब्दान् लिखत
यथा-
सियार – शृगालः
(क) कौआ – …………………..
(ख) मक्खी – …………………..
(ग) बन्दर – …………………..
(घ) बगुला – …………………..
(ङ) चोंच – …………………..
(च) नाक – …………………..
उत्तर:
(क) काकः
(ख) मक्षिका
(ग) वानरः
(घ) बकः
(ङ) चञ्चुः
(च) नासिका

NCERT Solutions for Class 6 Sanskrit

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *